वेलम्मा अंतःवस्त्रों की मॉडल बनकर छा गयी

अपने पति रमेश को जब वेलम्मा ने अपनी अंतःवस्त्रों की कैटलॉग को देखकर मुठ मारते देखा तो, उसने उसका ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए कुछ नए उत्तेजक अंतःवस्त्रों को खरीदने का निर्णय लिया। उसमें भी एक समस्या है : वेलम्मा को अपनी फिगर के लायक सेक्सी कुछ नहीं मिलता है! इसी वजह से वो अपने पत्रकार होने का लाभ उठाती है और सुप्रसिद्ध अंतःवस्त्र डिजाइनर मनदीप गांगुली का इंटरव्यू लेकर, यह पता करने की कोशिश करती है की उसके जैसे फिगर वाली महिलाओं को अपनी सुंदरता बढ़ाने के लिए आसानी से सेक्सी अन्तःवस्त्र क्यों नहीं मिलते हैं। वेलम्मा इस सब में निश्चित रूप से सफल होती है, और अंतःवस्त्रों की एक रेंज के निर्माण की प्रेरणा बनती है जो उसके सभी प्रशंसकों को बहुत पसंद आएगी!

अपने पति रमेश को जब वेलम्मा ने अपनी अंतःवस्त्रों की कैटलॉग को देखकर मुठ मारते देखा तो, उसने उसका ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए कुछ नए उत्तेजक अंतःवस्त्रों को खरीदने का निर्णय लिया। उसमें भी एक समस्या है : वेलम्मा को अपनी फिगर के लायक सेक्सी कुछ नहीं मिलता है! इसी वजह से वो अपने पत्रकार होने का लाभ उठाती है और सुप्रसिद्ध अंतःवस्त्र डिजाइनर मनदीप गांगुली का इंटरव्यू लेकर, यह पता करने की कोशिश करती है की उसके जैसे फिगर वाली महिलाओं को अपनी सुंदरता बढ़ाने के लिए आसानी से सेक्सी अन्तःवस्त्र क्यों नहीं मिलते हैं। वेलम्मा इस सब में निश्चित रूप से सफल होती है, और अंतःवस्त्रों की एक रेंज के निर्माण की प्रेरणा बनती है जो उसके सभी प्रशंसकों को बहुत पसंद आएगी!